Monday, 22 October 2018

मासिक धर्म घरेलु उपाय Menstruation Home Remedies

  Admin       Monday, 22 October 2018

घरेलु उपाय menstruation home remedies. periods aane ke gharelu nuskhe in hindi


मासिक धर्म घरेलु उपाय Menstruation Home Remedies

बबूल Babul, Acacia

  • 100 ग्राम बबूल का गोंद कड़ाही में भून ले. अब इस भुनी हुए गोंद को महीन पीस कर चूर्ण बनाकर रख लें। इसमें से 10 ग्राम की मात्रा में गोंद और मिश्री के साथ मिलाकर सुबह शाम सेवन करने से मासिक-धर्म का दर्द खत्म हो जाता है और माहवारी समय से आने लगता है।
  • गेरू 4.5 ग्राम और बबूल का भूना हुआ गोंद 4.5 ग्राम लेकर इनको पीसकर सुबह शाम पानी के साथ फंकी लेने से माहवारी के समय में अधिक खून का आना बंद हो जाता है।
  • बबूल की 20 ग्राम छाल को लेकर लगभग 400 मिलीलीटर पानी में उबालें, जब यह 100 मिलीलीटर शेष बचे तो इसे उतारकर ठंडा कर लें। अब छानकर इस काढ़े को दिन में 3 बार पिलाने से मासिक-धर्म में अधिक खून का बहना बंद हो जाता है।

पपीता Papaya

  • अगर आप कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर कहते है तो मासिक-धर्म सम्बन्धी विकार नष्ट हो जाते हैं।
  • यदि आपको माहवारी के समय में कम या ज्यादा दर्द होता है तो 1 कप पपीते का रस, 1 कप गाजर का रस, आधा
  • कपअनान्नास के रस को मिलाकर 2 महीने तक रोजाना 3 बार लेने से लाभ होता है।

दालचीनी Cinnamon

  • यदि आप दालचीनी का सेवन करती है तो अजीर्ण, उल्टी, लार, पेट का दर्द और अफारा मिटता है। यह स्त्रियों का ऋतुस्राव साफ करता है और गर्भाशय का संकोचन करती है।

इलायची Cardamom

  • इलायची, धाय के फूल, जामुन, मंजीठ, लाजवन्ती, मोचरस, तथा राल सभी को 10-10 ग्राम की मात्रा में लेकर इसका चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को 2 लीटर पानी में उबालें, फिर इसको छानकर इस पानी से योनि को धोयें। इससे कुछ ही दिनों में योनि का लिबलिबापन, दुर्गंध आदि नष्ट हो जाती है तथा मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

नीम Neem

  • नीम की सूखी पत्तियां 10 ग्राम, 10-11 तुलसी की पत्तियां, 3 ग्राम पीपल, 10 ग्राम त्रिफला का चूर्ण, 5 ग्राम सोंठ, 2 ग्राम कालीमिर्च और 5 ग्राम जवाखार। इन सभी सामग्री को कूट-पीसकर चूर्ण बनाकर शीशी में भरकर रख लें। इस चूर्ण में से 5-5 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम सेवन करना चाहिए। इससे माहवारी से सम्बन्धी परेशानियां समाप्त हो जाती हैं।

हींग Hing, Asafoetida

  • यदि आपको मासिक-धर्म के समय यदि दर्द होता है तो आधा ग्राम हींग को पानी में घोलकर कुछ दिनों तक नियमित रूप से सेवन करने से दर्द मिट जाता है।
  • माहवारी कम आता हो तो हींग का सेवन करने से मासिक स्राव नियमित रूप से आना शुरू हो जाता है।

लहुसन Garlic

  • मासिक-धर्म यदि अनियमित हो लहसुन की 2 कलिया को रोजाना सेवन करने से मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

आंवला  Amla, Indian Gooseberry

  • यदि किसी को मासिक-धर्म में अधिक रक्तस्राव यानी खून का बहाव नहीं होता है। तो एक चम्मच आंवले का रस पके हुए केले के साथ कुछ दिनों तक लगातार सेवन करने से लाभ होता है।

सौंफ Saunf, Fennel

  • मासिक-धर्म सम्बन्धी हर तरह की शिकायते को समाप्त करने के लिए। सौंफ 10 ग्राम तथा पुराना गुड़ 10 ग्राम की मात्रा में लेकर इसे आधा लीटर पानी में उबालें। जब पानी तिहाई मात्रा में बचा रह जाए तो उसे छानकर पिए।

चुकन्दर Beetroot

  • चुकन्दर का रस एक कप गर्म करके इसमें थोड़ा-सा सेंधानमक मिलाकर कुछ दिनों तक पीते रहने से रुका हुआ मासिक-धर्म खुलकर आने लगता है।

खजूर Date

  • पिण्ड खजूर प्रतिदिन 100 ग्राम की मात्रा में 2 महीने तक लगातार सेवन करते रहने से मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

सोंठ Dry ginger

  • सोंठ, गुग्गुल और गुड़ तीनों को 10-10 ग्राम की मात्रा में लेकर काढ़ा बनाकर सोते समय पीने से मासिक-धर्म सम्बन्धी परेशानी दूर हो जाती हैं।
  • सोंठ 50 ग्राम, गुड़ 25 ग्राम, बायबिडंग 5 ग्राम तीनों को कुचलकर 2 कप पानी में उबालें। जब एक कप बचा रह जाए तो उसे पी लेना चाहिए। इससे मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

हल्दी turmeric

  • यदि गर्भाशय में कोई खराबी या सूजन है और मासिक-धर्म ठीक से न होता हो, तो एक चम्मच हल्दी गुड़ के साथ भूनकर खाना चाहिए।

अनार Pomegranate

  • अनार के थोड़े से छिलकों को सुखाकर फिर उसका चूर्ण बनाकर शीशी में भरकर रख ले। इसमें से 1 चम्मच चूर्ण को खाकर ऊपर से पानी पी लें। इससे बार-बार खून आने की शिकायत दूर हो जाती है।

धनिया coriander

  • लगभग 20 ग्राम धनिया को 200 मिलीलीटर पानी में डालकर उबालें जब 50 मिलीलीटर पानी शेष रह जाए तो छानकर मिश्री मिलाकर रोगिणी को सेवन करा दें। इस प्रयोग से मासिक-धर्म में अधिक रक्त का आना बंद हो जाता है।
  • लगभग 20-25 ग्राम धनिये के दानों को पानी में उबालें। जब लगभग आधा कप पानी बचा रह जाए, तो इसे छानकर उसमें गुड़ मिलाकर सेवन करने से मासिक-धर्म की परेशानियों से छुटकारा मिल जाता है।

करेला bitter gourd

  • 2 चम्मच करेले के रस में चीनी मिलाकर सेवन करने से मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

केला banana

  • केले के तने में से छाल (परत) निकालकर उसे कुचलकर उसका 4 चम्मच रस निकाल लें। इसे 7-8 दिनों तक निराहार (बासी मुंह) सेवन करने से किसी भी कारण से रुका हुआ मासिक-धर्म नियमित रूप से आने लगता है।

कालीमिर्च Black pepper

  • 4-5 कालीमिर्च के बारीक चूर्ण को एक चम्मच शहद में मिलाकर 20-25 दिनों तक सेवन करने से मासिक-धर्म की अनियमितता समाप्त हो जाती है।

मेथी Fenugreek

  • 50 ग्राम मेथी के बीज और 40 ग्राम मूली के बीजों को पीसकर बारीक चूर्ण बनाकर नियमित रूप से 2-2 ग्राम की मात्रा में सेवन करने से मासिक-धर्म सम्बन्धी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

तिल sesame

  • तिल 5 ग्राम, 8 दाने कालीमिर्च, एक चम्मच पिसी सोंठ, 4 दाने छोटी पीपल। सभी को एक कप पानी में काढ़ा बनाकर पीने मासिक-धर्म सम्बन्धी शिकायतें दूर हो जाती हैं।
logoblog

Thanks for reading मासिक धर्म घरेलु उपाय Menstruation Home Remedies

Previous
« Prev Post

No comments:

Post a Comment